Mon07282014

Last update11:24:49 PM

पुजारी जी के हनुमान जी

पुजारी जी के हनुमान जी

पुजारी जी बड़े ही दयालु प्रवृति के ब्राह्मण थे। पा...

छावनी वाले हनुमान जी

छावनी वाले हनुमान जी

धौलपुर राजस्थान का ऐसा जिला है । जहां धर्म की पताक...

मेंहदीपुर बालाजी धाम

मेंहदीपुर बालाजी धाम

श्री मेंहदीपुर बालाजी धाम। आगरा- जयपुर राष्ट्रीय म...

मुक्तिधाम के पाठकों से अपील

मुक्तिधाम के पाठकों से अपील

नमस्कार पाठकों, हम आपको हमारी वेब पत्रिका मुक्ति...

कटास राज, जहां बहे थे भगवान शिव के आंसू

कटास राज, जहां बहे थे भगवान शिव के आंसू

मुक्तिधाम संवाददाता, हिंदू धर्म विभिन्न मान्यताओ...

सब ठाकुर की माया है

सब ठाकुर की माया है

श्रीराम हनुमान वाटिका के मुखिया श्री श्री 1008 श...

Ad

  • Photo gallery

Sample image Sample image Sample image Sample image Sample image Sample image

नारदवाणी

अन्य समाचार

शिवरात्री व्रत का महत्व

शिवरात्री व्रत का महत्व

4 MONTHS AGO  |  muktidham

गणेशजी को चतुर्थी ,नागराज को पंचमी , कार्तिकेयजी को षष्टी , सूर्यदेव को सप्तमी ,दुर्गाजी को नवमी , ब्रह्माजी को दशमी , भगवान विष्णु को द्वादशी , कामदे...

Read more

Loading...

वास्तु

कहां हो घर में पूजाघर

कहां हो घर में पूजाघर

1 YEAR AGO  |  muktidham

पं, योगेश जी उपाध्याय, घर में पूजाघर का अर्थ उपासना का ऐसा स्थल जहां बैठकर घर के सदस्य प्रतिदिन अपने आराध्य देवी देवताओं की उपासना कर सकें। यह घर का ऐ...

Read more

Loading...

आस्था

 सिद्ध पीठ हैं ज्वालादेवी

सिद्ध पीठ हैं ज्वालादेवी

1 YEAR AGO  |  muktidham

हिमाचल प्रदेश अपनी अलौकिक खूबसूरती के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है। यहां पर कई देवी-देवताओं के मंदिर इसकी खूबसूरती में और चार चांद लगाते हैं। इन मं...

Read more

Loading...

यात्रा

कटास राज, जहां बहे थे भगवान शिव के आंसू

कटास राज, जहां बहे थे भगवान शिव के आंसू

4 MONTHS AGO  |  muktidham

मुक्तिधाम संवाददाता, हिंदू धर्म विभिन्न मान्यताओं का धर्म है। यह आस्था का धर्म है। हिंदू धर्म में तीर्थों का विशेष महत्व है। ऐसे ही तीर्थों में एक त...

Read more

Loading...

हनुमान मंदिर

दस हजार वर्ष पुराना हनुमान जी का नारी स्वरूप

दस हजार वर्ष पुराना हनुमान जी का नारी स्वरूप

2 MONTHS AGO  |  muktidham

छत्तीसगढ़ की न्यायिक राजधानी कहे जाने वाली बिलास नगरी से महज 25 कि. मी. दूर एक स्थान है रतनपुर। इसे महामाया नगरी भी कहा जाता है। यह देवस्थान न केवल भा...

Read more

Loading...

ज्योतिष

ओशन जेस्पर निखारे सूरत और सीरत

ओशन जेस्पर निखारे सूरत और सीरत

5 MONTHS AGO  |  muktidham

हेमंत कुमार शास्त्री 

कहते हैं सूरत और सीरत दोनों ही भगवान की देन हैं। भगवान ने जो इस बार बना दिया सो बना दिया फिर उसमें बदलाव नामुमकिन हैं। फिर इंसा...

Read more

Loading...

योगा

योग से दूर भगाएं कब्ज

योग से दूर भगाएं कब्ज

1 YEAR AGO  |  muktidham

कब्‍ज की समस्‍या बच्‍चों और बडों में आम है। शरीर में पानी की कमी, डाइट में पोषण की कमी, व्‍यायाम ना करना और खराब लाइफस्‍टाइल की वजह से हर इंसान कब्‍...

Read more

Loading...

आयुर्वेद

खिलेगी त्वाचा, मुंहासे रहेंगे दूर

खिलेगी त्वाचा, मुंहासे रहेंगे दूर

1 YEAR AGO  |  muktidham

अमित गुप्ता, आजकल भागदौड़ भरी जिंदगी में किसी के पास अपने लिए ज्यादा समय नहीं है। लेकिन इसके बाद भी हर कोई अपने आप को अप टू डेट रखना चाहता है जिससे ...

Read more

Loading...

साक्षात्कार

सब ठाकुर की माया है

सब ठाकुर की माया है

4 MONTHS AGO  |  muktidham

श्रीराम हनुमान वाटिका के मुखिया श्री श्री 1008 श्रीरामकृष्ण दास महात्यागीजी महाराज से वाटिका एवं स्वयं के जीनव से जुड़े मुद्दों पर हमारे संपादक ने ख...

Read more

Loading...

प्रवचन

कभी किसी मनुष्य की जयकार ना कीजिए !

कभी किसी मनुष्य की जयकार ना कीजिए !

1 YEAR AGO  |  muktidham

कभी किसी मनुष्य की जयकार ना कीजिए ! चाहे वो कोई भी हो , है तो मनुष्य ही , कोई ईश्वर तो नहीं ! जयकार करनी ही है तो सिर्फ और सिर्फ अपने इष्टदेव की कीजिए...

Read more

Loading...
Back You are here: Home

संतों के प्रवचन-रामकथा

जाने अपना भाग्य

Music

 
Grid-based Joomla! News portal approach